छत्तीसगढ़

अबूझमाड़ में मुठभेड़... सुरक्षाकर्मियों ने 8 नक्सलियों को किया ढेर.. सर्चिंग जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले में महाराष्ट्र सीमा पर अबूझमाड़ क्षेत्र के ग्राम कुतुल में शनिवार सुबह शुरू हुई मुठभेड़ में नक्सलियों को बड़ा नुकसान पहुंचा। जवानों ने 8 नक्सलियों को ढेर कर दिया है। वहीं, मुठभेड़ के दौरान नक्सलियों के गोली से एक एसटीएफ का जवान बलिदान और एसटीएफ के दो जवान घायल हैं। संयुक्त अभियान में नारायणपुर-कोण्डागांव- कांकेर- दन्तेवाड़ा डीआरजी, एसटीएफ व आईटीबीपी 53वीं वाहिनी , बीएसफ 135 वीं वाहिनी का बल शामिल है। इलाके की सर्चिंग जारी है, मारे गये 8 नक्सलियों के शव जवानों ने बरामद कर लिए हैं। शव के साथ इंसास रायफल, 303 रायफल, बीजीएल लांचर सहित बड़ी मात्रा में हथियार व अन्य नक्सल सामग्री बरामद की गई है। 

मुठभेड़ उपरांत बरामद नक्सलियों के शवो की शिनाख्तगी का भी प्रयास किया जा रहा है। मुठभेड़ में शामिल जवानों ने बड़ी संख्या में नक्सलियो के घायल होने ओर मारे जाने की प्रबल संभावना व्यक्त किया है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी. ने बताया कि मुठभेड़ में 8 नक्सलियों के मारे गये हैं। एक जवान बलिदान और दो जवान घायल हुए हैं, घायल जवानों की स्थिति सामान्य और खतरे से बाहर है । तथा मारे गये नक्सलियों के शव के साथ हथियार एवं अन्य नक्सल सामग्री के बरामद किया गया है। उन्होने बताया कि संयुक्त अभियान में नारायणपुर-कोण्डागांव- कांकेर- दन्तेवाड़ा डीआरजी, एसटीएफ व आईटीबीपी 53वीं वाहिनी , बीएसफ 135 वीं वाहिनी का बल शामिल है। विस्तृत जानकारी अभियान पूरा होने के बाद पृथक से जारी की जायेगी। 

पुलिस को कुतुल, फरसबेड़ा, कोड़तामेटा इलाके में बड़ी संख्या में नक्सलियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के बाद संयुक्त अभियान में नारायणपुर-कोण्डागांव- कांकेर- दन्तेवाड़ा डीआरजी, एसटीएफ व आईटीबीपी 53वीं वाहिनी , बीएसफ 135 वीं वाहिनी का बल के करीब 1400 जवानों को अभियान के लिए रवाना किया गया था। उल्लेखनीय है कि पिछले 3 दिनों से जवान नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। एक दिन पहले 14 जून को भी जवानों की संयुक्त टीम के साथ दिनभर रुक-रुक कर गोलीबारी हुई थी। 15 जून की सुबह से फिर से मुठभेड़ शुरू हुआ, जिसमें 8 नक्सली मारे गये हैं।