मनोरंजन

87 वर्ष की आयु में इन्होंने कहा दुनिया को अलविदा... PM नरेंद्र मोदी ने जताया शोक

नईदिल्ली। रामोजी फिल्म सिटी और ईनाडु के संस्थापक रामोजी राव का शनिवार सुबह हैदराबाद, तेलंगाना में निधन हो गया। रामोजी राव का हैदराबाद के स्टार अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। रामोजी राव का हैदराबाद के स्टार अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया। 87 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। भारत सरकार ने वर्ष 2016 में रामोजी को समाज में उनके योगदान के लिए भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारपद्म विभूषण प्रदान किया था।

तेलुगु मीडिया में रामोजी राव को दूरदर्शी माना जाता है। ईनाडु समूह के संस्थापक के रूप में, उन्होंने तेलुगु भाषी क्षेत्रों में समाचार वितरित करने और उपभोग करने के तरीके को आकार देकर मीडिया उद्योग में क्रांति ला दी। उनकी विरासत पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी। बता दें कि उनके द्वारा स्थापित की गई हैदराबाद की रामोजी फिल्म सिटी दक्षिण और बॉलिवुड फिल्मों के लिए एक बड़ा मंच है।
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने x एकाउंट में पोस्ट करते हुए लिखा कि रामोजी राव गुरु का निधन अत्यंत दुखद है। वे एक दूरदर्शी व्यक्ति थे जिन्होंने भारतीय मीडिया में क्रांति ला दी। उनके समृद्ध योगदान ने पत्रकारिता और फिल्म जगत पर अमिट छाप छोड़ी है। अपने उल्लेखनीय प्रयासों के माध्यम से उन्होंने मीडिया और मनोरंजन जगत में नवाचार और उत्कृष्टता के नए मानक स्थापित किए। रामोजी राव गुरु भारत के विकास के प्रति बेहद भावुक थे। मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे उनसे बातचीत करने और उनके ज्ञान से लाभ उठाने के कई अवसर मिले। इस कठिन समय में उनके परिवार, दोस्तों और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।

 The passing away of Shri Ramoji Rao Garu is extremely saddening. He was a visionary who revolutionized Indian media. His rich contributions have left an indelible mark on journalism and the world of films. Through his noteworthy efforts, he set new standards for innovation and… pic.twitter.com/siC7aSHUxK
— Narendra Modi (@narendramodi) June 8, 2024