देश-विदेश

एयरफोर्स का विमान : कुवैत अग्निकांड में जान गंवाने वाले भारतीयों के शव लेकर कोच्चि पहुंचा

कुवैत की इमारत में लगी भीषण आग में 49 लोगों की मौत हो गई। जिसमें 45 भारतीय थे। इस दौरान 45 भारतीयों के पार्थिव शरीर को विशेष विमान से कोच्चि एयरपोर्ट भारत लाया गया।

डेस्क | कुवैत की इमारत में लगी भीषण आग में 49 लोगों की मौत हो गई। मरने वालो में 45 भारतीय थे। इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री सुरेश गोपी ने शुक्रवार को कहा कि विदेश मंत्रालय ने घायल भारतीयों के इलाज को सुनिश्चित करने के प्रयास में अद्भुत भूमिका निभाई है। वहीं राज्य मंत्री ने बताया कि एक दिन के लिए अपने सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए। इस हादसे में मरने वालों के शवो को लेने के लिए वह कोच्चि एयरपोर्ट पर मौजूद हैं। 

इस दौरान पार्थिव शरीर कोच्चि हवाई अड्डे पर पहुंचने पर एर्नाकुलम रेंज के डीआईजी पुट्टा विमलादित्य ने कहा कि हमने शवों को प्राप्त करने के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं पहले ही कर ली है। वहीं केरल के राजस्व मंत्री के.राजन ने बताया कि पीड़ितों के परिवार के सदस्यों के साथ समन्वय किया जा रहा है। वहीं 23 शव केरल, 7 शव तमिलनाडु और कर्नाटक के 1 व्यक्ति के शव को कोच्चि एयरपोर्ट पर लाया जाएगा। बाकी के शव को विमान से दिल्ली भेज दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर शव के सार्वजनिक दर्शन के लिए व्यवस्था की गई है। इसके बाद शव को उनके परिजनों को सौंप जाएगा। 

के. राजन ने आगे बताया कि शव को तमिलनाडु ले जाने के लिए अगर और एंबुलेंस की जरूरत पड़ी तो स्वास्थय विभाग इसकी व्यवस्था करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, "हमने प्रत्येक एंबुलेंस के लिए पायलट वाहन का भी इंतजाम किया है।" केरल के राजस्व मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री पिनरई विजयन और अन्य राज्य मंत्री भी एयरपोर्ट पर आएंगे।

 

----------